Connect with us

Fullform

Nasa full form in Hindi【नासा क्या है , स्थापना , कार्य 】

Published

on

nasa fullform in hindi-nasa in hindi

हेल्लो मित्रो, क्या आप ब्रम्हांड की जानकारियों में रुचि रखते है?क्या आप को अंतरिक्ष के बारे में जानकारियां लेनी पसंद है?तो ये लेख आपके लिये ही है।

आपको इस लेख में ब्रह्मांड में संसोधन करने के लिए बड़ा योगदान देने वाली संस्था नासा के बारे में नासा की फुल्लफॉर्म (nasa full form in hindi) , नासा क्या है , नासा का इतिहास , नासा के कार्य  जैसी जानकारी विस्तार से बताएंगे।

दोस्तों , तो साथ में पॉपकॉर्न लेके तैयार हो जाइए सबसे बड़ी अंतरिक्ष संसोधन संस्था नासा के बारे में रसप्रद जानकारी का मजा लेने के लिए ।

Nasa ki full form ( Nasa full form in hindi )

  • नासा का फुल फॉर्म हिन्दि में -“राष्ट्रीय वैमानिकी एवं अंतरिक्ष प्रशासन”.
  • नासा का फुल फॉर्म English me – “National Aeronautics And Space Administration”

नासा की स्थापना 

नासा के जो केंद्रों है उन्होने अभि तक बहुत सफलता हाँसिल की है। अमेरिकन सरकार को जरूरत थी कोई ऐसी संस्था की जो देश के विकास में और तेजी की गति लाए ।

और तो और उनको जरूरत थी कोई ऐसी संस्था की जो आंतरराष्ट्रीय क्षेत्र पे अंतरिक्ष की नई नई खोज में आगे बढ़ सके और अच्छे से अच्छा कार्य कर सके।

तदोपरांत कार्य मे कुशल एवं सर्वोपरि हो सके इसी हेतु से नासा की स्थापना की चिनगारी उत्पन्न हुई और इसी तरह नासा का जन्म हुआ।

नासा का जन्म 29 जुलाई 1958 में हुआ।

नासा का इतिहास 

1957 में सोवियत संघ ने पहली बार स्पूतनिक नामक सेटेलाइट को पहली बार इतिहास रचकर अंतरिक्ष मे भेज दिया।

सारी दुनिया आश्चर्य चकित हो गई और सबका ध्यान सोवियत संघ के इस कारनामे की और जाने लगा।

उस समय के सोवियत संघ के सबसे बड़े स्पर्धक अमेरिका भी इस दिशा में कार्य करने के लिए तेजी से आगे बढने लगा।

अमेरिका के पास अंतरिक्ष मे संसोधन, जांच , जैसे कार्य करने के लिए कोई संस्था नही थी तो अमेरिका ने नासा की शुरुआत 29 जुलाई 1958 में अमेरिका के तत्कालीन प्रेसिडेंट Eisenhower के द्वारा की गई थी।

धीरे धीरे नासा के अथाग दृढ निश्चय और परिश्रम के कारण नासा द्वारा Alan B. Shepherd Junior अंतरिक्ष मे जाने वाले पहले इंसान बन गए।

नासा का कार्य पूरे विश्व मे प्रसिद्ध होने लगा। नासा धीरे धीरे एक से एक सिद्धि या हासिल करने लगा।

नासा ने अपोलो , चन्द्र अभियान , अंतरिक्ष शटल , स्काई लेब अंतरिक्ष स्टेशन जैसे अतिमहत्वपूर्ण कार्यो में अपना पूरा योगदान दिया हुआ है।

वर्तमान समय पे नासा अंतराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन , चन्द्र पर मानव को भेजने के लिए आर्टेमिस कार्यक्रम , कर्मीदल वाहन जैसे कार्य कर रहा है।

नासा कहा है ?

  • नासा संयुक्त्त राज्य अमेरिका में स्थित है और नासा का मुख्यालय वाशिंगटन डी सी में उपस्थित है।

नासा क्या है ?

नासा (National Aeronautics and Space Administration) एक ऐसी स्पेस एजेंसी है जो देश के कार्य जैसे कि एरोस्पेस, वैमानिकी एवं विविध प्रकार के अंतरिक्ष कार्यक्रमों जेसी सेवा ओ के लिए जिम्मेदार हैं।और तो और नासा अमेरिका सरकार की स्वतंत्र एजैंसी है।

नासा का एक ही हेतु है कि सबका लाभ हो एवं सब आगे बढ़े।

नासा अनेक विध खोज के कार्यों में हमेशा बहोत आगे रहता है ।नासा ने अभी तक पूरे विश्व को काम आने लायक बहुत सारे कार्य एवं खोज किये है ।

नासा में बहोत सारे अपने अपने कार्यो में अपनी सहभागिता प्रदान करते हैं । नासा में और भी बहोत लोग काम करते है जैसे कि वैज्ञानिक , लॉयर, टीचर्स, यहां तक कि लेखकों भी है जो यहां काम करते है।

नासा में परीक्षण की भी बहोत सारी सुविधाओं उपलब्ध है। हम कह सकते है कि नासा में अभी कई सारे लोग करीब करीब 17,000 से ज्यादा लोग काम करते है।

नासा हमे अंतरिक्ष के बारे में , उनके के रहस्यो के बारे में,सौर मंडल के बारे में, पृथ्वि पर रहने वाले हवामान एवं पृथ्वी का टेम्परेचर क्या रहेगा? आगामी दिनों में क्या रहनेवाला है ? साथ ही अंतरिक्ष के विविध पहलु के बारे में हमे रोजाना नई नई जानकारी देती है।

NASA के कार्य क्या है?

दोस्तो नासा का कार्य बहोत ही विभिन्न होता है। इसके कार्य बहुत ही रुचि भरे , कठिन और अलग प्रकार के होते है।

नासा उपग्रह बनाता है। उपग्रह का संचालन करता है। उपग्रह के द्वारा हमें बहोत सी सुविधाए प्राप्त होती है ।

उपग्रह के द्वारा हमें मौसम की जानकारीया , पृथ्वी पर मेप की सुविधा और कई तरह के फायदे होते रहते है।

नासा दूसरे ग्रहों पर जांच का कार्य करता हैं। वे दूसरे ग्रहों पे नई नई चीजों का संसोधन करते है।

पृथ्वी के बाहर के ग्रहों पर जीवन है या नही उसका पता लगाने की जांच नासा बहुत ही अच्छे तरीके से करता है।

कोई ग्रह पर जांच के लिए रोबोट , रॉकेट में इंसान को भेजना हो जैसे अतिमहत्वपूर्ण कार्य के लिए नासा ही आभारी है।

पृथ्वी के बाहर अंतरिक्ष में उल्काये , उपग्रह , क्षुद्रग्रह , ग्रह , धूमकेतु , सोलर सिस्टम  के अध्ययन का कार्य भी नासा करता रहता है।

 

निष्कर्ष : 

दोस्तो हमने ऊपर के लेख में नासा के बारे में नासा का फुल्लफॉर्म (nasa full form in hindi) , नासा क्या है , नासा की स्थापना , नासा का कार्य जैसे विषय पर गहन चर्चा की है।

हमे आशा है कि आपको ये लेख पसंद आया होगा। यदि आप को ये लेख पसंद आया हो तो अपने दोस्तों , रिश्तदारों को जरूर से शेयर कीजिये।

ऐसे ही शानदार लेख पढ़ने के लिए हमारे साइट पे आते रहिएगा। हमारी साइट पे आने के लिए धन्यवाद।

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Categories

Recent Post

Trending